आखिरकार मोदी से मिलने दिल्ली पहुंची ममता, रखी अपनी ये डिमांड

0
1624

अभी हाल ही में दिल्ली की राजनीति में एक बड़ी डेवलपमेंट हुई है जो अपने आप में एक तरह से अप्रत्याशित थी. खैर राजनीति अपने आप में ऐसी ही घटनाओं का समूह है जिसमे कुछ भी पहले से मालूम रहता नही है. अभी बात करे हम लोग ममता बनर्जी और नरेंद्र मोदी की तो राजनीतिक मोर्चे पर ये दोनों एक दुसरे के सामने खड़े होना भी पसंद नही करते है लेकिन प्रशासनिक और जनता की जरूरते आपको आपस में करीब ले ही आती है और ये हमने एक नही बल्कि कई बार देखा है.

पीएम से मिली ममता बनर्जी, कहा जनसँख्या के हिसाब से टीके मिले
अभी हाल ही में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी देश की राजधानी नयी दिल्ली पहुँची थी जहाँ पर उन्होंने पहले से ही प्रधानमंत्री मोदी से मिलने के लिए समय माँगा था. उन्हें समय मिला और नियत समय पर वो मिलने के लिए पहुँच भी गयी. वहां पर जाने के बाद में उन्होंने पीएम मोदी से अपनी बंगाल की जनता के लिए पर्याप्त टीको की डिमांड की ताकि सभी लोगो को जल्द से जल्द टीके लग सके. पीएम ने भी अपनी तरफ से कहा हम करेंगे. इसके आलावा ममता ने राज्य का नाम बदलने का मुद्दा भी उठाया.

पेगासस जासूसी मुद्दे पर भी बात की
ममता बनर्जी ने पीएम मोदी से मुलाक़ात के समय पेगासस जासूसी का मुद्दा भी उठाया और इस मामले पर आल पार्टी मीटिंग बुलाने के लिए भी रिक्वेस्ट की है. हालांकि ममता बनर्जी का कहना है कि चुनाव के बाद में वो दिल्ली गयी थी और संविधान के प्रोटोकोल के तहत उनको मिलने जाना ही था लेकिन ये तो साफ़ नजर आता है कि कई जरूरते है जो राज्य सरकारों को केंद्र के पास में खींच ले ही जाती है.

राष्ट्रपति से भी मिलना चाहती है ममता बनर्जी, लेकिन प्रोटोकोल ने अटकाया
अभी हाल ही में ममता बनर्जी राष्ट्रपति महोदय से मुलाकात के लिए भी समय माँगा था लेकिन ममता बनर्जी से अभी के लिए आरटीपीसीआर टेस्ट करवाने के लिए कहा गया है क्योंकि वो देश के सबसे बड़े अधिकारी से मिलने जा रही है.

अभी के लिए पीएम मोदी और ममता बनर्जी दोनों के बीच जो भी बात हुई है वो अपने आप में चर्चा का विषय बना हुआ है क्योंकि असल में राजनीतिक मंच पर तो इनका एक साथ कही पर भी हो पाना मुश्किल ही है. आखिर दोनों के बीच की दूरियां किसी से भी छुपी हुई नही है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here