अमेरिका में छाया चिंता का साया, बायडन ने तुरन्त प्रभाव से विदेश मंत्री को भारत भेजा

0
7651

विश्व स्तर की जो भी राजनीति है उसमे भारत की भूमिका क्या है और कितनी मायने रखती है ये बात किसी से भी छुपी हुई नही है. हर कोई इस कारण से भारत की तरफ रूख करता है चाहे वो विश्व की सबसे बड़ी महाशक्ति अमेरिका ही क्यों न हो? अभी के लिए एक बड़ी खबर ये आ रही है कि दुनिया में आ रहे उतार चढावो को देखते हुए अमेरिका एक बार फिर से चिन्तित हो रहा है. ऐसे में अब फिर से एक नया गठजोड़ बनते हुए नजर आ सकता है.

ब्लिंकेन आ रहे भारत, चीन का बढ़ता प्रभाव और अफगान में बढ़ रही अस्थिरता पर को ऑपरेशन पर हो सकती है बात
अभी जो बायडन ने अपने सबसे ख़ास और विश्वासी आदमी अमेरिका के विदेश मंत्री ब्लिंकेन को भारत के लिए भेजने का निर्णय किया है और जो जल्द ही आकर के भारत में अपने समकक्ष एस जयशंकर से मुलाक़ात करेंगे और संभव हुआ तो पीएम मोदी भी उनको समय दे सकते है. ये मुलाक़ात अपने आप में बहुत ही अधिक अहम मानी जा रही है जो विश्व की जियो पॉलिटिक्स को भी प्रभावित करेगी.

दरअसल अमेरिका फ़िलहाल दो मुद्दों को लेकर के चिन्तित है. पहला तो अफगान में उसकी फ़ोर्स के निकलने के बाद में तालिबान का दबदबा और एशिया में ही नही बल्कि अफगान में भी चीन का बढ़ रहा प्रभाव. दोनों ही जगहों पर भारत की अहम् भूमिका है वो चाहे आर्थिक रूप से चीन को खदेड़ना हो या फिर तालिबान को एशिया के एक बड़े हिस्से पर टेक ओवर करने से रोकना हो. हर जगह पर भारत इस एरिया में बहुत ही बड़ी सुपर पॉवर है और ऐसे में भारत के साथ को ऑपरेशन करके ही यूएस भी यहाँ पर कुछ  कमाल करके दिखा सकता है.

अब भारत इस मामले को क्या लीवरेज के तौर पर इस्तेमाल करता है या फिर वाकई में विश्व में वर्ल्ड आर्डर को व्यवस्थित रखने में अमेरिका की निस्वार्थ भाव से मदद कर देता है, ये तो मोदी सरकार के ऊपर ही निर्भर करता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here