योगी को हराने के लिये अखिलेश और ओवैसी कर सकते है यूपी में गठबंधन, लेकिन एक शर्त है

0
2320

उत्तर प्रदेश में जैसे जैसे चुनाव नजदीक आ रहे है वैसे वैसे कई जगहों पर तस्वीर साफ़ होते हुए नजर आ रही है. काफी कुछ है जो हम देख भी पा रहे है और देख रहे है कि कौन किसके पाले में जाने वाला है? स्थितियां साफ़ होते हुए अधिक वक्त लगता नही है और अभी ऐसा ही कुछ होते हुए यूपी में भी दिखाई दे सकता है जो लोगो की समझ से कुछ वक्त पहले तक बाहर था, मगर अब योगी जी को रोकने के लिए दो बड़ी पार्टियाँ साथ आने की फिराक में है.

किसी मुस्लिम को बनाये उपमुख्यमंत्री, तो करेंगे अखिलेश संग गठबंधन
आपको ये तो मालूम ही होगा कि ओवैसी की पार्टी एएमआईएम ने उत्तर प्रदेश की राजनीति में कदम रख दिया है और ये लगभग हर बड़ी मुस्लिम सीट पर चुनाव लड़ने जा रहे है. ऐसे में कुछ एक सीट्स ओवैसी को मिल सकती है लेकिन सबसे बड़ी दिक्कत इससे अखिलेश को हो सकती है क्योंकि मुस्लिम वोट जो उनको मिल सकता है वो ओवैसी के आने से बंट जाएगा और इससे सपा को घाटा ही होने वाला है.

इसी बीच अब ओवैसी ने अखिलेश के सामने ये प्रपोजल रख दिया है कि अगर समाजवादी पार्टी जीतने पर किसी मुस्लिम को उत्तर प्रदेश का मुख्यमंत्री बनाती है तो फिर वो सपा को अपना समार्थन दे देंगे और उनके साथ में गठबंधन करके चुनाव भी लड़ सकते है. ये जिस तरह से उन्होंने अचानक से अपना प्रपोजल रखा है उससे इतना साफ़ हो गया है कि योगी आदित्यनाथ के सामने अकेले टिक पाने की हिम्मत तो फ़िलहाल किसी भी नेता में नजर नही आ रही है.

इस कारण से ओवैसी हो या फिर कोई और हो अपने अपने लिए साथी ढूंढ रहे है ताकि आपस में मिलकर के दर्जन भर सीट्स तो हासिल की जा सके. पिछले चुनावों में सपा और बसपा मिलकर के भी कुछ नही कर पायी थी लेकिन वो इस बार थोड़ी उम्मीद लिए आगे बढ़ रहे है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here