संजय राउत ने कहा ‘भाजपा को नीतीश से समर्थन वापिस लेना चाहिये’, तो बदले में नीतीश कुमार ने दिया ऐसा जवाब

0
6623

राजनीतिक पार्टियों के आपस में बयान और गठबंधन तो बनते बिगड़ते रहते है और हर किसी के अपने मायने भी होते है. अगर हम लोग अभी की बात करते है तो भाजपा के साथ में सबसे बड़ी पार्टी कोई जुडी हुई है तो वो जेडीयू है जो उनका लगभग ज्यादातर मुद्दों पर समर्थन करती ही है. अब कई मुद्दों पर दोनों में विरोधाभास हो सकता है जिसे भुनाने की कोशिश में अब शिवसेना लग गयी है. वैसे ये थोडा सा हैरान तो करता ही है क्योंकि हाल ही में संजय राउत ने नीतीश कुमार को सलाह देने का प्रयास किया है.

संजय राउत ने कहा, अगर जनसँख्या नियंत्रण क़ानून पर नीतीश बीजेपी के साथ नही तो अपना समर्थन वापिस ले ले
उत्तर प्रदेश में आ रहे जनसँख्या नियंत्रण क़ानून पर टिप्पणी करते हुए संजय राउत ने कहा कि वो भाजपा के इस कदम का स्वागत करते है लेकिन अगर बिहार मुख्यमंत्री नीतीश कुमार इसका विरोध करते है तो भारतीय जनता पार्टी को उनसे समार्थन वापिस ले लेना चाहिए.

नीतीश ने दिया जवाब, उसको कुछ समय है, मैं नोटिस भी नही लेता
जब नीतीश कुमार से संजय राउत के इस तरह के बयान पर प्रतिक्रिया देने के लिए कहा गया तो उन्होंने जवाब में कहा कि शिवसेना के लोग क्या बोलते है उसको तो हम नोटिस भी नही लेते. अगर लडकियों की पढने की चिंता है तो वो जाने. वो किसको छोड़कर के गये है और किसको छोड़कर के जाने वाले है. हम बिन वजह के किसी को बोलते भी नही है. कौन मुख्यमंत्री या कौन राज्य करेगा ये वो ही जाने, हमने तो सिर्फ बताया था कि इसके लिए सबसे प्रभावी चीज क्या है.

इस तरह से नीतीश कुमार ने एक तरह से संजय राउत की गरिमा को ठेस सी पहुंचा  दी है जहाँ पर वो ये कह देते है कि हम तो इनकी बातो को नोटिस भी नही लेते है. कही न कही इसका जवाब भी वो देने की कोशिश तो करेंगे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here