रूस की हकीकत आयी सामने, भारत के लिये चिंता वाली बात

0
5141

रूस भारत का एक बहुत ही अच्छा दोस्त रहा है और हमेशा से ही ये देश से ही अपने मित्र देशो की मदद करता भी है इस बात में कोई भी शक नही है लेकिन इन दिनों में रूस की कुछ बाते उलझन पैदा करने वाली है और वो है करोना का टीकाकरण जो रूस दुनिया भर में करने का दावा तो कर रहा है लेकिन उसके अपने देस में हालात काफी खराब है और ऐसा क्यों हुआ है? इस पर सारी दुनिया आज की तारीख में सवाल भी उठा रही है.

दुनिया का सबसे पहला टीका बनाने वाला रूस अब तक अपनी आबादी के 15 प्रतिशत लोगो को भी नही लगा पाया है
आपको मालूम हो तो रूस ने पिछले वर्ष ही ऐलान कर दिया था कि हमने विश्व का सबसे पहला करोना का टीका बना लिया है और इसे लगाने की शुरुआत भी कर दी गयी थी मगर आपको जानकर के हैरानी होगी कि अभी तक आधा साल बीतने के बाद भी सिर्फ साढ़े 4 करोड़ लोगो को टीका लग सका है जो इनकी आबादी का  सिर्फ 14.2 प्रतिशत है जबकि भारत ने महज तीन महीनो में तीस करोड़ लोगो को लगा दिया है.

बात सिर्फ यही पर नही रूकती है रूस में पिछले कुछ दिनों में रिकॉर्ड तोड़ केसेज भी आ रहे है और कई लोग अपनी जान भी गँवा रहे है जिस पर जो लोग टीका लगवा चुके है उनको फिर से एक और बूस्टर टीका लगवाने के लिए कहा जा रहा है जो अपने आप में संशय पैदा करता है कि क्या अब ये बार बार लगवाते रहना पड़ेगा?

खैर अभी तो भारत में भी रूस की ही स्पुतनिक लग रही है तो अगर भारत में भी लगनी शुरू हो चुकी है तो कम से कम रूस  का डाटा तो साफ़ होना चाहिए ताकि यहाँ के लोग पूरे विश्वास के साथ में लगवा सके. वो देश जो भारत को ये टीका दे रहा है उसके अपने देश में ही इतने कम लोगो को टीका लगा है और केसेज की संख्या रिकॉर्ड तोड़ रही है तो ऐसे में संशय पैदा होना भी लाजमी है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here