मायावती का वो फैसला, जो उनके ऊपर बहुत भारी पड़ने वाला है

0
2409

मायावती आज के समय में बहुत ही बड़ी नेता है और उनका रूतबा राजनीतिक रूप से काफी विशाल है इस बात में कोई संशय नही है. देश भर में वो एक दलितों की नेता के रूप में अपनी पहचान बना चुकी है मगर पिछले कुछ समय से मायावती और बसपा दोनों के ही करियर पर एक तरह से ग्रहण लगा हुआ है और इनके हालात बड़े ही खराब से हो चुके है. पिछले लगातार कई चुनाव हारने के बाद में अब मायावती ने एक ऐसा फैसला लिया है जो हर किसी को हैरान कर रहा है.

यूपी में अकेले लड़ेगी चुनाव, मगर पंजाब में कर लिया गठबंधन
मायावती की तरफ से हाल ही में राजनीतिक रूप से एक बहुत ही अजब सा फैसला लिया गया है. इसमें मायावती ने कहा है कि उत्तर प्रदेश में जो अगले विधानसभा चुनाव होने जा रहे है उनमे वो अकेले ही चुनाव लड़ेगी यानी किसी के भी साथ में गठबंधन नही करेगी. अब ये एक ऐसा वक्त है जिसमे बीजेपी की लोकप्रियता चरम पर है और योगी जी जैसा दमदार नेता उनके सामने तो ऐसे में यूपी में अकेले योगी से भिड़ने का फैसला कितना सही हो पाता है ये तो आने वाला वक्त ही बतायेगा.

वही दूसरी तरफ मायावती ने यानी बसपा ने पंजाब में जहाँ पर उनकी कोई ख़ास पहचान नही है वहां पर अकाली दल के साथ में मिलकर के चुनाव लड़ने का फैसला किया है जिसका अर्थ क्या निकलता है ये कोई भी नही जानता है. कही न कही इस तरह के फैसले बताते है कि अब यहाँ पर बहुत ही बड़े स्तर पर बदलाव की जरूरत तो है.

हालांकि इसमें मायवती की अपनी कोई अंदरूनी स्ट्रेटजी भी हो सकती है जिसके बारे में संभव है कि वो फ़िलहाल के लिए कोई भी खुलासा नही करना चाहती हो या फिर करने से बच रही हो. बाकी यूपी चुनावों में कौन किसके साथ जाएगा वो तो जनता देख ही लेगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here