कोरोना में बोर्ड परीक्षा को लेकर मोदी सरकार ने लिया बड़ा फैसला

0
927

अभी देश भर में करोना के कारण से स्थिति कुछ ज्यादा अच्छी है नही और हालात भी देखे तो कण्ट्रोल में रहने की बजाय थोड़े आपे से बाहर से ही नजर आते है इस बात में कोई भी शक नही है. अब ऐसे में बच्चो की परीक्षा भी काफी महत्त्वपूर्ण हो जाती है और ऐसा इसलिए भी हिया क्योंकि जब हम लोग बात करते है सामान्य परीक्षाओं की तो फिर उसमे प्रमोट कर सकते है, लेकिन बोर्ड एग्जाम कोई हंसी खेल है नही. ऐसे में एक बड़ा निर्णय आया है.

कैंसिल नही होगी 12वी बोर्ड की परिक्षा, CBSE ने मांगे राज्यों से परिक्षा करवाने को लेकर सुझाव
अभी जो अपडेट सामने आ रही है उसके अनुसार CBSE ने निर्णय लिया है कि वो 12वी बोर्ड के एग्जाम कैंसिल नही करने वाला है. इसे जून के अंत में या फिर जुलाई के मध्य तक शुरू करवाने के ऊपर विचार किया जा रहा है, इस मामले में राज्यों का भी काफी अहम रोल होगा इसलिए राज्य की सरकारों से सुझाव मांगे गये है और 30 मई तक इस पर एक अंतिम निर्णय मिल जाएगा.

फ़िलहाल यहाँ पर ओपन बुक एग्जाम करवाने पर, ओब्जेक्तिव एग्जाम करवाने पर या फिर ऑनलाइन एग्जाम करवाने के ऊपर भी विचार किया जा रहा है. यानी कुछ पैनल के लोगो का कहना है कि एग्जाम घर से ऑनलाइन करवाए जाए तो ये भी एक विकल्प हो सकता है, मगर एक बार के लिए एग्जाम करवाने तो जरूरी है क्योंकि अगर बारहवी के बच्चो को प्रमोट किया जाता है तो फिर ये शिक्षा के क्षेत्र में भारत की साख कमजोर कर देगा क्योंकि इसी कक्षा के बाद में कई बच्चे विदेशो में भी यही मार्क शीट लेकर के पढने जाते है और कॉलेज में एडमिशन लेते है.

हालाँकि पेरेंट्स और आम जनता तो अभी फ़िलहाल के लिए इस बात को लेकर के चिंतित है कि बच्चे अगर एग्जाम देने गये और उनको करोना वगेरह हो गया तो फिर उनके साथ में क्या होगा? टेंशन वाली बात तो है और ऐसे में जरूरी है कि इनका कुछ न कुछ उपाय किया जाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here