चीन और रूस के बीच बड़ी डील, भारत के लिये खतरा

0
1770

विश्व स्तर की जो राजनीति है वो बिलकुल भी परमानेंट है नही, यहाँ पर कब और किस समय क्या कुछ बदल जाए कुछ भी कहा नही जा सकता है और ये बात तो हम लोग भी बखूबी जानते ही है. कही न कही इस बात को लेकर के भारत काफी अधिक संवेदनशील देश है और भारत को कब किस दिक्कत में पड़ते हुए हम लोग देख ले कुछ कह नही सकते, क्योंकि एक पुराना दोस्त भारत से धीरे धीरे करके भारत से दूर होते चला जा रहा है और उसके पीछे की वजह है चीन.

चीन और रूस के बीच में फाइनल हुई परमाणु डील, रूस बनाएगा चीन के लिए परमाणु संयत्र
चीन और रूस के बीच में इन दिनों में नजदीकियां दिन ब दिन काफी अधिक बढती चली जा रही है. अभी हाल ही में इन दोनों ही देशो के बीच में एक न्यूक्लियर डील साईन की गयी है जिसके तहत अब रूस चीन के अन्दर चार बहुत ही बड़े और विशाल साइज़ के परमाणु संयंत्र बनाएगा और ये सिविल को ऑपरेशन के नाम पर किया जा रहा है जो हम लोग बहुत ही अच्छे से जानते है पर असल में इसके पीछे की मंशा कुछ और भी हो सकती है.

अगर चीन और रूस के बीच में परमाणु ऊर्जा के क्षेत्र में इस तरह से साझेदारी बढ़ेगी तो चीन की ताकत काफी अधिक बढ़ेगी और साथ ही साथ में भारत के लिए भी ये चिंता की बात हो जायेगी क्योंकि इससे रूस की करीबी चीन से अधिक हो जायेगी और फिर ऐसे में भारत और रूस के सम्बन्ध पहले जैसे नही रहने वाले है.

इन सबको काउंटर करने के लिए भारत क्वाड देशो के साथ में गठबंधन कर रहा है जिसमे अमेरिका, जापान, ऑस्ट्रेलिया शामिल है और इसी की मदद से भारत आगे की भविष्य की रूपरेखा तैयार कर रहा है. आगे बाकी देखने वाली बात होगी कि भविष्य में क्या कुछ निर्धारित है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here