अमेरिका ने मुश्किल में छोड़ा भारत का साथ, रूस सच्चा दोस्त बनकर निभाने आया दोस्ती

0
1023

आज की तारीख में विश्व स्तर के समीकरण बहुत ही अधिक तेजी के साथ में बदल रहे है और कही न कही ये चीज हमने हर जगह पर देखी भी है कि भारत भी अब धीरे धीरे अमेरिका और यूरोपियन देशो की तरफ जा रहा है. इसके पीछे का मुख्य कारण एक ये भी है कि रूस और चीन काफी करीब आ गये है. मगर आपको जानकर के हैरानी होगी कि जब भी बुरा वक्त आता है तो फिर ऐसे वक्त में अमेरिका नही बल्कि रूस ही है जो भारत के साथ में खड़ा हुआ नजर आता है.

अमेरिका जहाँ टीके बनाने के कच्चे सामान देने में कर रहा आनाकानी, वही रूस ने सामने से आकर किया ऑक्सीजन और दवाइयाँ देने का ऐलान
आपको मालूम ही होगा कि अभी इन दिनों में देश भर में करोना के केस किस हद तक बढ़ चुके है और हालात बड़े ही खराब ही नही बल्कि खस्ता हो चले हा . ऐसे में लोगो को चिंता तो जाहिर तौर पर होगी ही और ऐसे में जब टीके का उत्पादन बढ़ाना था तो भारत के बड़े बड़े लोगो ने बार बार अमेरिका से अपील की कि वो अपने यहाँ पर बनने वाले कच्चे सामान का निर्यात करे लेकिन उन्होंने आनाकानी ही की है.

इसी बीच अब रूस सामने आया है और बिन मांगे मदद ऑफर की है. रूस ने कहा है कि अभी भारत जिस स्थिति में है उसे हम समझते है और इसी के चलते हुए अभी रूस भारत को ऑक्सीजन की और ख़ास तौर पर रेमदेसिविर की सप्लाई देने की बात कर रहा है. यही नही रूस अपनी बनी हुई स्पुतनिक वी टीका भी भारत में जल्द ही भेजने जा रहा है, जबकि अमेरिकी कम्पनियो के तो अभी कुछ अते पते ही नही है.

तो ऐसे में भारत के थिंक टैंक हो या फिर कोई और ही क्यों न हो आम जनता ही हो लेकिन हर कोई ऐसे वक्त में भारत को रूस से अच्छे दोस्त के तौर पर जोड़कर के देखता है और ये बात अधिकतर लोग जानते भी है और मानते भी है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here