बड़ी मुसीबत में है महाराष्ट्र सरकार, उद्धव ठाकरे ने फोन करके मांगी प्रधानमंत्री मोदी से मदद

0
634

कई बार शुरू में की गयी लापरवाही अपने आप में खुद पर भारी पड ही जाती है और फिर जब तक हम उसे रोकते है या फिर उस पर कुछ विचार भी करते है उससे पहले ही दिक्कते शुरू हो जाती है. अगर हम बात करे महाराष्ट्र के सन्दर्भ में, तो ऐसा ही कुछ हमने होते हुए देखा भी है. पिछले कुछ महीने लापरवाही में निकालने का नतीजा आज ये हो गया है कि फिलहाल महाराष्ट्र में करोना की दूसरी सबसे प्रचंड लहर आ गयी है, उससे बड़ी एक मुसीबत और भी है जिसके लिए पीएम तक बात पहुँच चुकी है.

ढेरो कोशिशो के बाद भी नही बच रही महाराष्ट्र में मेडिकल ऑक्सीजन, ठाकरे ने फोन करके एयरलिफ्ट के जरिये मदद करने की मांग रखी
अभी फ़िलहाल हर तरफ से लोग, सरकार, व्यापारी और प्रशासन सबकी मदद करने के लिए कोशिश कर रहे है और इसी प्रयास में है कि जितना हो सके उतने लोगो की जान बचायी जाए, मगर हाल ही में पता लगा है कि प्रदेश में तो ऑक्सीजन की पर्याप्त सप्लाई ही नही है और अगर टाइम पर ये नही हो पाया तो हजारो लोग ऐसे ही पानी जान से हाथ धो बैठेंगे.

इसी के चलते हुए उद्धव ठाकरे ने फोन करके प्रधानमंत्री मोदी के सामने सारी समस्या रखी है और लगभग 1500 मेट्रिक टन ऑक्सीजन की जरूरत बताई है, ये हवाई रास्ते से एयरलिफ्ट करवाकर के भेजी जायेगी तब ही कुछ हो सकता है क्योंकि अगर हम लोग अभी की स्थिति की बात करे तो हर दिन टनो में ऑक्सीजन की जरूरत पड़ रही है और अगर ये नही मिली तो न जाने कितने ही परिवार दुःख में डूब जायेंगे.

ऐसे वक्त में अब केंद्र से मदद की ही उम्मीद है. हालांकि मुकेश अम्बानी भी अपनी रिफायनरी से भारी मात्रा में ऑक्सीजन की सप्लाई करवा रहे है लेकिन वो भी अभी पर्याप्त नही होगी क्योंकि अभी फ़िलहाल संक्रमण बहुत ही तेजी के साथ में फ़ैल रहा है और लोग इसके कारण बहुत ही अधिक परेशान से हो गये है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here