राजस्थान कांग्रेस फिर से संकट में? आ रही पायलट खेमे से बड़ी खबर

0
1062

अभी आपको मालूम हो तो राजस्थान में कांग्रेस की सरकार है और काफी अच्छे से गहलोत शासन कर भी रहे है लेकिन जब तक शासक के आस पास में कोई ऐसा व्यक्ति न हो जो उसे टक्कर देने वाला हो तो फिर राजनीति मानो फीकी फीकी सी लगती है और अब ऐसा लगता है कि राजस्थान में तो आने वाले वक्त की जो राजनीति है वो फीकी नही बल्कि काफी ज्यादा मसालेदार होने वाली है क्योंकि सचिन पायलट के खेमे ने एक बार फिर से अपना सर उठा लिया है और ये गहलोत के लिए चिंता वाली बात है.

गहलोत सरकार में घमासान, पायलट खेमा मांग रहा अपने हक
पायलट खेमे के उनके काफी करीबी नेता वेद प्रकाश सोलंकी ने सत्ता में अनुसूचित जाती और जनजातियो के हिस्सेदारी का मुद्दा उठाया. उनके जो भी खेमे के मंत्री आदि पद से हटाए गये थे उनको लेकर के भी कुछ भी नही हुआ और कमिटी में जो भी लोग थे वो अब भी उनको सुनते नजर आये नही है, ऐसे में सब्र का बाँध टूटना लाजमी ही था और ऐसा होते हुए हमें एक बार फिर से नजर आ रहा है.

ऐसे में साफ़ तौर पर नजर आ रहा है कि राजस्थान में जो सचिन पायलट का खेमा है वो अपनी पूरी हिस्सेदारी हक के हिसाब से सरकार में और मंत्री मंडल आदि में चाहता है, हालांकि अब गहलोत इस पर राजी फिर भी न हो तो भी पायलट के पास में विकल्प क्या है? वो चाहकर के भी गहलोत की सत्ता को हिला नही सकते है और ऐसे में वो क्या करेंगे ये ओ कोई भी नहीं जानता है, हालाँकि वो भी काफी मंझे हुए नेता है तो कुछ लिए बिना तो मानने वालो में से है नही.

अब ऐसे में गहलोत इस तरह की चुनौतियों से किस तरह से निपट पाते है ये अपने आप में देखने वाली ही बात होगी क्योंकि उनके लिए अभी राजस्थान में स्थिति सामान्य हुई नही है और पार्टी में उठ रही इस तरह की अंदरूनी कलह चिंता पैदा तो करती ही है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here