कोठारी बंधुओ को भूले नही है योगी जी, उनको लेकर किया बड़ा ऐलान

0
2048

अयोध्या अपने आप में काफी बड़े बड़े इतिहास समेटे हुए है. यहाँ पर हिन्दू धर्म से जुड़े हुए लोगो ने अपना काफी कुछ खोया भी है काफी कुछ पाया भी है लेकिन इस जगह को छोड़ने के लिए वो कभी भी राजी नही हुए है. अभी हाल ही में यहाँ की राज्य सरकार ने जो फैसला किया है उसकी हर जगह पर सराहना न सिर्फ हो रही है बल्कि साथ ही साथ में उन लोगो को सम्मान मिलने जा रहा है जो वाकई में इसके अधिकारी भी है, एक तरह से आप ऐसा कह सकते है.

कोठारी बंधुओ के नाम पर रहेगी अयोध्या में सडक, हमेशा याद रखा जायेगा
नाम दोनों ही कोठारी बंधू जिनका नाम था राम कुमार और शरद कुमार उनको लेकर के योगी सरकार में उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने जानकारी देते हुए बताया कि दोनों के नाम पर अयोध्या में एक सड़क का निर्माण किया जाएगा या फिर कहे रखा जाएगा. ये सड़क उनके द्वारा जो बलिदान दिया गया है उस याद में नाम रखा जा रहा है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी इस समय पर दोनों ही भाईयो को याद किया और उनको नमन किया.

कौन थे राम और शरद कुमार
अक्सर लोगो को इनके बारे में अधिक पता नही होता है तो जो 1991 में राम मंदिर को लेकर के आन्दोलन हुआ था उसमे इन दोनों ही भाइयो की बहुत ही अहम भूमिका थी. ये अपने परिवार के साथ में कोलकता में रहते थे और संघ के कार्यकर्ता भी थे. ये दोनों ही राम मंदिर के लिए अयोध्या के लिए निकले थे और वहां पर बनारस के रास्ते से होते हुए पहुँच भी गये. इसके बाद में उन्होंने बाबरी पर जाकर के अपनी ध्वजा फहरा दी जिसके बाद में बहुत से लोग भी आ गये.

इसी बीच पुलिस आ गयी और मुलायम सिंह के आदेश पर जो मिले उन रामसेवको को ही खत्म करने की बात पुलिस तक पहुंची. तब एक इन्स्पेक्टर ने शरद कुमार और उनके भाई राम कुमार की जीवन लीला बीच सडक पर ही समाप्त कर दी. आज उनके कारण राम मंदिर आन्दोलन को प्रगति मिल पायी है और उसी की याद में इस सड़क का नाम रखा जा रहा है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here