बंगाल में भी महाराष्ट्र वाला फार्मूला अपनाएगी कांग्रेस और टीएमसी? कांग्रेस के बयान के बाद खलबली

0
577

अभी पश्चिम बंगाल में चुनाव चल रहे है जहाँ पर वैसे तो दो पार्टियाँ यानी टीएमसी और बीजेपी ही चुनाव में लड़ते हुए नजर आ रही है लेकिन कुछ कुछ अस्तित्व कांग्रेस और लेफ्ट का भी है इस बात को नकारा नही जा सकता है. खैर अभी हाल ही में कुछ बाते है जो अन्दर की है और सामने आयी है वो कई लोगो के हौसले जो बड़े शौक से कांग्रेस या टीएमसी को वोट दे रहे है उनके अरमानो को जरा तोड़ सकती है क्योंकि उनके वोट के गठबंधन होने की संभावना बनते हुए नजर आ रही है.

टीएमसी को समर्थन देने के सवाल पर बोले अधीर रंजन चौधरी, राजनीति संभावनाओं की कला है
अभी हाल ही में बंगाल कांग्रेस के अध्यक्ष और नेता अधीर रंजन चौधरी से सवाल किया गया कि क्या वो टीएमसी के साथ में जायेंगे या फिर उनको समर्थन देंगे तो इसके जवाब में उन्होंने काफी दिलचस्प बाते कही है. चौधरी ने कहा कि अभी इस तरह का काल्पनिक सवाल करने का कोई टाइम नही है क्योंकि अभी हम नबना सीट को जीतने के लिए लगातार आगे बढ़ते जा रहे है.

हमें नही पता कि ममता बनर्जी कहाँ पर जाती है अगर वो हार जाती है, राजनीति अपने आप में संभावनाओं की कला है. अधीर रंजन चौधरी ने यहाँ पर गोल मोल जवाब दिया है और संभावनाओं के ऊपर बात की है क्योंकि अभी रिजल्ट से पहले कोई कह भी कैसे दे कि हम किसके साथ है? किसको कितनी सीट्स मिलेगी उसके बाद में ही तय हो पायेगा कि क्या कुछ किया जा सकता है.

मगर जो अभी चौधरी ने बयान दिया है और उनके बोलने का तरीका है उससे साफ पता चलता है कि अगर बीजेपी को बंगाल में सत्ता में आने से रोकने के लिए उनको महाराष्ट्र वाला फोर्मुला अपनाना पड़ता है वो वो भी अपना लेंगे. खैर अभी तो ममता अपने दम पर ही डटी हुई है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here