मोदी सरकार ने जो किया उससे अमेरिका और ताइवान खुश है, पर चीन तमतमा गया है

0
1474

आज की तारीख में चीन विश्व के सामने अपनी आँखे दिखाने की कोशिश में लगा हुआ है और ये चीज हम लोगो ने भी देखी है कि किस  तरह से आज हर छोटे  बड़े देश पर वो अपना प्रभुत्व जमाना चाहता है, लेकिन ऐसे में एक देश है जो हर मोर्चे पर चीन को धुल चटा रहा है तो वो है भारत. अभी हाल ही में भारत ने कई हजार किलोमीटर दूर साउथ अमेरिका में चीन को ऐसा मजा चखा दिया है जिसका स्वाद उसके लिए कई सालो तक भूल पाना मुश्किल होने वाला है.

चीन ने पराग्वे को दी थी वार्निंग, ताइवान का साथ छोडो तभी देंगे टीका
अभी चीन साउथ अमेरिका में अपने बने हुए करोना के टीके सप्लाई कर रहा है और जब एक छोटा सा देश जिसे पराग्वे के नाम से जाना जाता है उस देश को टीका देने की बात आयी तो चीन ने कहा कि पराग्वे सबसे पहले ताइवान को अपनी तरफ से दी हुई मान्यता रद्द कर दे, और कह दे कि हम ये मानते है ताइवान चीन का हिस्सा है न कि कोई अलग देश है. पराग्वे के विदेश मंत्री ने मीडिया में आकर के ये बात बता दी.

ताइवान ने मांगी दुनिया से मदद, कहा चीन को ऐसे किसी को दबाने मत दो
जब ये मामला सामने आया तो ताइवान ने एक ओपन स्टेटमेंट जारी करते हुए कहा कि चीन वैक्सीन का सहारा लेकर के छोटे देशो को दबा रहा है कोई तो शेरदिल देश हो जो पराग्वे की मदद करे और उनको चीन के दबाव में आने से बचाए. अब आप सोचिये कि आगे क्या हुआ होगा?

भारत तुरंत आया मदद करने, पराग्वे को भेजी टीके की पहली खेप
जैसे ही ये मामला सामने आया वैसे ही भारत ने पराग्वे में कुल 1 लाख वैक्सीन के डोज भेज दी है और अभी कुछ दिनों में और भी टीके इस देश को दिए जायेंगे ताकि सब लोगो की मदद की जा सके. भारत के इस कदम ने चीन को बहुत ही शर्मिंदगी का सामना करवाया है और बाकायदा चीन अपने अखबार ग्लोबल टाइम्स की मदद से भारत को घमंडी बताने में लग गया है जो चीन की हालत टाइट करने के लिए टीके सप्लाई कर रहा है.

अमेरिका और यूरोप के अखबारों में छाया भारत, हर तरफ हो रही प्रशंसा
इस पूरी घटना के बाद में जिस तरह से भारत ने चीन को धोबी पछाड़ दी है उसके बाद में यूरोप, अमेरिका, ताइवान और जापान तक के अखबारों में भारत की जमकर के प्रशंसा की जा रही है और लोग एक तरह से कह रहे है कि आज की तारीख में चीन को अच्छे से काउंटर कोई कर रहा है तो वो भारत ही है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here