ममता बनर्जी ने वही गलती कर दी, जो बीजेपी वाले चाहते थे

0
1929

अभी पश्चिम बंगाल में चुनाव चल रहे है और इस चुनावी दौर में हर कोई अपने अपने हिसाब से चीजो को देख रहा है समझ रहा है और कार्य प्रणाली को आगे भी बढ़ा रहा है. अगर हम लोग बात करते है खुद ममता बनर्जी की तो वो हमें साफ़ तौर पर नजर आ रहा है कि बीजेपी ने उनके लिए जो जाल उनके लिए बुना था वो उसमे एक तरह से फंस चुकी है और जाति धर्म के कार्ड में ही उलझकर के रह गयी है, जिसके कारण अब वो अपनी विश्वसनीयता भी खो रही है.

पहले बताया खुदको शांडिल्य ब्राह्मण, फिर अल्पसंख्यको से जाकर कहने लगी अपना वोट बंटने मत दो
भाजपा अपने पक्ष में बंगाल के एक बहुत ही बड़े हिन्दू समुदाय को ले आयी जिससे परेशान होकर के ममता बनर्जी ने खुद भी मंदिरों में जाकर के पूजा करनी शुरू कर दी खुदको हिन्दू दिखाने लगी. यही नही ममता बनर्जी ने ये तक डिक्लेयर एक तरह से किया कि वो भी एक शांडिल्य ब्राह्मण है. अब इससे दुसरे हिन्दू वोट ममता को मिले न मिले लेकिन बाकी के जो कई और तबको के वोट छिटकने लगे तो ममता अब उनके पास में जा रही है.

अभी हाल ही में ममता बनर्जी ने बाकी छोटे समुदाय के लोगो से अपील की है कि आप किसी और को वोट न दे. आपको अपना वोट बंटने नही देना है और एक तरह से विनती के भाव में ममता बनर्जी उनसे वोट मांगते आई, क्योंकि अभी उनके छिटकने का डर भी बढ़ गया है जबसे ममता ने खुदको ब्राह्मण बताने और बीजेपी जैसी राजनीति करने की कोशिश की थी.

खैर अभी तो जो कुछ भी हो रहा है या फिर दुसरे शब्दों में कहे तो देखने में आ रहा है वो बहुत ही अलग किस्म का है और इस माहौल में ममता बनर्जी का टिक पाना या फिर सर्वाइव कर पाना बहुत ही ज्यादा मुश्किल सा भी हो जाता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here