भारत ने बनाया नया रिकॉर्ड, अमेरिका चीन सब छूट गये पीछे

0
1433

पिछले भारत और अभी के भारत में अब जमीन आसमान का अंतर आ चुका है. हम कई सारी ऐसी चीजे होते हुए देख रहे है जो कभी सपने में भी सोची नही गयी थी और अभी हाल ही की बात करे तो भारत में कई चीजे हो रही है जैसे डिजिटल इंडिया आ चुका है, मेक इन इंडिया के तहत बड़े बड़े प्लांट लग रहे है और कई सारे ऐसे काम है जो स्टार्ट अप आदि के जरिये भी हो रहे है, इसी बीच भारत ने एक नया रिकॉर्ड बनाकर के सारी दुनिया को चौंका दिया है.

डिजिटल ट्रांजेकशन में भारत नम्बर वन, अमेरिका चीन रूस सब पीछे
भारत में इन्टरनेट बहुत ही देरी से आया, स्पीड को लेकर दिक्कते रही और बैंकिंग सिस्टम भी काफी मुश्किलों से होते हुए लोगो तक पहुंचा पर जब आ गया तो लोगो ने जबरदस्त तरीके से इसका इस्तेमाल किया है और अभी हाल ही में जो रिपोर्ट सामने आयी है उसमें तो भारत ने एक नया कीर्तिमान ही बना दिया है. भारत में पिछले एक साल में कुल 25.5 बिलियन डिजिटल पेमेंट हुई है जो विश्व में सबसे अधिक है, इसके बाद में नम्बर दो पर यहाँ पर चीन है जिसने लगभग 15 बिलियन डिजिटल पेमेंट की है वही तीसरे पर यहाँ साउथ कोरिया है और फिर पीछे इंग्लैंड जापान और अमेरिका जैसे देश आ रहे है.

यूपीआई ने बदल दिया है भारत में पेमेंट का अंदाज
भारत में कुछ वर्ष पहले तक डिजिटल पेमेंट की काफी कमी थी लेकिन जब से सरकार ने यूपीआई लांच किया है उसके बाद से चीजे बिलकुल बदल चुकी है. आज दस रूपये से लेकर एक लाख तक जिस तरह की पेमेंट करनी होती है वो फोन पे, गूगल पे जैसे एप्स की मदद से हो जाती है और फिर पेटीएम मोबीक्विक जैसे एप्स ने भी अपने आपको खूब अच्छे से स्थापित किया है. जो डिजिटल लेन देन को बढाते है.

सरकार द्वारा बैंक खातो को खोलने के प्रोग्राम से भी मिला है बल
आपको मालूम हो तो मोदी सरकार ने बैंक खाते खोलने के ऊपर बहुत ही ज्यादा बल दिया है. आते ही सरकार ने करोडो की संख्या में लोगो के जन धन खाते खोल दिए और आज की तारीख में भारत में 80 प्रतिशत से भी ज्यादा लोगो के पास में बैंक खाते हो गये है जो एक काफी बड़ा आंकड़ा है.

इन सब चीजो के कारण आज भारत डिजिटल लेन देन बहुत ही ज्यादा बढ़ गया है. एक रिपोर्ट तो कहती है आने वाले वक्त में भारत में डिजिटल लेन देन 71 प्रतिशत तक जा सकता है जो बहुत ही ज्यादा बड़ी बात होगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here